इन क्रिकेटरों के बारे में भी सोचना जरूरी !

 इंग्लैंड - वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज के साथ क्रिकेट ने वापसी की है। ये सीरीज शुरू होने के बाद ही अलग - अलग देशों से क्रिकेट मैचों  से जुड़ी ख़बरों के आने का सिलसिला शुरू हुआ। इंगलैंड में अगर सबसे पहले इंटरनेशनल क्रिकेट शुरू हुई तो घरेलू क्रिकेट भी वे ही

एक ऑलराउंडर की बेहतरीन क्रिकेट की इससे बेहतर मिसाल और कौन सी ?

मानचेस्टर  टेस्ट  जीतकर इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज को रोमांचक बना दिया क्योंकि सीरीज का स्कोर 1-1 हो गया। इंग्लैंड की  वापसी का श्रेय किसी एक खिलाड़ी को देना गलत होगा पर जिस एक खिलाड़ी ने इस जीत में सबसे ख़ास भूमिका निभाई वे बेन स्टोक्स हैं। बात इतनी

This Unsung Bangladesh cricketer needs due recognition

An unsung player from Asia’s cricket crazy nation who has seen his country’s cricket team build from absolutely nothing to a squad which can spoil any opposition’s party on its day is central character of theme today.Many people have been involved in taking the Bangladesh cricket team from the

एक आँख की नज़र खोने के बावजूद पटौदी  कमाल के बल्लेबाज़ थे 

फ़िल्म स्टार सैफ अली खान इन दिनों अपने अब्बा और भारत के भूतपूर्व कप्तान  मंसूर अली खान उर्फ़ नवाब पटौदी पर बायोपिक बनाने के  प्रोजेक्ट पर बड़ी मेहनत कर रहे हैं। उनसे जुड़ी बातों और घटनाओं को याद किया जा रहा है, इकट्ठा किया जा रहा है  और सिलसिलेवार लिखा  जा रहा है

MSD Online Cricket A New Begining – MSD की ऑनलाइन क्रिकेट एकेडमी एक नई शुरुआत है

MSD की ऑनलाइन  क्रिकेट एकेडमी  एक नई  शुरुआत है  लॉक डाउन ने बहुत कुछ बदल दिया। जिंदगी जीने का तरीका बदल दिया  और बहुत कुछ   ऑनलाइन  हो गया - स्कूल ,कॉलेज और यूनिवर्सिटी की क्लास भी। इसी कड़ी में एक नई शुरुआत है  ऑनलाइन  क्रिकेट एकेडमी। इस नई  शुरुआत का श्रेय    MSD  यानि कि महेंद्र सिंह धोनी को जाता है। जब चारों तरफ धोनी की जीवा को मोटर साइकिल पर सैर कराने  और आर्गेनिक फार्मिंग के लिए ट्रेक्टर चलने की फोटो छप रही थीं तो वे साथ - साथ अपनी   ऑनलाइन क्रिकेट एकेडमी की तैयारी भी कर रहे थे।  इस ऑनलाइन MS Dhoni Cricket Academy की शुरुआत हो गई  है 2  जुलाई से और ये साफ़ नज़र आ रहा  है कि  क्रिकेट से फाइनल रिटायरमेंट के बाद धोनी अपने लिए जो विकल्प तैयार कर रहे हैं क्रिकेट कोचिंग उनमें से एक है ।सही पड़ाव पर सही क्रिकेट कोचिंग मिले इसे  उनसे बेहतर कौन जानता  है? वे एक ऐसे शहर रांची से हैं जहाँ क्रिकेट की विरासत या संस्कृति के नाम पर कुछ नहीं था।  तब उन्होंने सही कोचिंग के लिए जिन दिक्कतों का सामना किया, वे नहीं चाहते कि क्रिकेट में आई क्रांति में आज क्रिकेटर बनने का सपना देखने वाले बच्चों को सही समय पर सही कोचिंग न मिले। इस क्रिकेट से उन्हें जो मिला वे उसे कुछ हद तक लौटना चाहते हैं कोचिंग के लिए फुर्सत  निकालकर। ये एकेडमी इस दिशा  में उनकी पहली कोशिश नहीं है।  उन्होंने अपनी पहली   एकेडमी दुबई में शुरू की। नई  लीज  की कोशिश  और उसके बाद लॉक डाउन में ये  एकेडमी बंद हो गई थी।  अब  एकेडमी की जगह की नई लीज की कोशिश हो रही है और सब ठीक हो जाने पर यह  एकेडमी भी एक्शन  में आ जाएगी।    रांची की   एकेडमी Aarka Sports Pvt Ltd  ( धोनी के बचपन के दोस्त और मैनेजर मिहिर दिवाकर की कंपनी ) के साथ मिलकर शुरू की। इसमें सबसे पहले क्रिकेट कोच के लिए कोर्स चला और अब 2  जुलाई से खिलाड़ियों के लिए कोचिंग शुरू की है। यहाँ कोच का एक पैनल है हर तरह के सवाल के जवाब और सही गाइडेंस के लिए। धोनी इस कोच पैनल के हेड हैं।   दक्षिण अफ्रीका के मशहूर क्रिकेटर डेरल कल्लिनन भी इस पैनल में हैं। उनका 70 टेस्ट और 138 वन डे इंटरनेशनल  का अनुभव नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। धोनी भले  ही खुद विकेटकीपर के तौर पर पहचान रखते हैं पर इतने बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं कि अपनी बल्लेबाज़ी से भी टीम में  जगह के हक़दार । कप्तान के तौर पर अपने गेंदबाज़ों की कामयाबी की स्कीम बनाने में उनके योगदान के बारे में कौन नहीं जानता? इसलिए वे ट्रेनी को क्रिकेट के हर पहलू पर वे टिप्स दे सकते हैं जो उसके करियर को सही ट्रैक पर डाल देगा। धोनी  हाल फिलहाल इंदौर शहर में एकेडमी से भी जुड़े हैं। सिलीगुड़ी में एक  एकेडमी  शुरू करने की स्कीम पर बड़ी तेजी से काम हो रहा  है। इसके बाद कोचिंग प्रोजेक्ट में पटना , बोकारो , नागपुर  और वाराणसी का भी नाम है।  वह दिन दूर नहीं जब पूरे देश में युवा ट्रेनी धोनी की कोचिंग टिप्स का फायदा उठाएंगे।By चरनपाल सिंह सोबती  (Charanpal Singh Sobti)

Harsha Bhogle Special by Paramdeep

Voice of Indian cricket and a cricket commentator around the world, Mr Harsha Bhogle celebrates his 59th birthday today. He is hailed and loved by a wide audience both in India and outside. The cricket anchor cum commentator was praised for his passion and knowledge of the game and