क्या है पुराने क्रिकेटरों के अनुभव का फायदा ?

ऐसे दिनों में जबकि हर चर्चा में सिर्फ आईपीएल  का जिक्र हो रहा है , ये बड़ा अच्छा है कि BCCI ने इस बात को नहीं भुलाया कि  घरेलू क्रिकेट शुरू करने के दिन भी नज़दीक आ रहे हैं। कोविड के कारण घरेलू सीजन प्रभावित होगा ये सभी जानते हैं पर खेलना होगा क्योंकि  बैंच स्ट्रेंथ अच्छी होगी तभी तो भविष्य के लिए अच्छे क्रिकेटर मिलते रहेंगे। इसी तैयारी के इरादे से  BCCI ने एक वेबिनार का आयोजन किया जिसमें  NCA  के हैड और सबसे बेहतरीन बल्लेबाज़ों में से एक राहुल द्रविड़ , NCA  में हैड ऑफ़ एजुकेशन सुजीत सोमसुंदर ( भारत के भूतपूर्व क्रिकेटर ) और ट्रेनर आशीष कौशिक ने सभी राज्य क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव / क्रिकेट ऑपरेशन हैड से सीधे बात की। वेबिनार के एजेंडा में लिखा था कि कोविड  के इस माहौल में खिलाड़ियों की फिटनेस पर बात होगी और फिटनेस ट्रेनिंग शुरू करने पर जानकारी दी जाएगी। 
ये सब चर्चा तो हुई ही , राहुल द्रविड़ ने चर्चा के इस दायरे से बाहर निकलकर , सभी  राज्य क्रिकेट एसोसिएशन  को अपने अनुभव से जो सलाह दी , वह ध्यान देने वाली है।  सभी  राज्य क्रिकेट एसोसिएशन को उन्होंने कहा कि जहाँ तक संभव हो सके पुराने क्रिकेटरों के अनुभव का फायदा उठाओ और उन्हें ट्रेनिंग सैट-अप में शामिल करो , भले ही वे  एसोसिएशन से सीधे कोच या सपोर्ट  स्टॉफ के तौर पर नहीं जुड़े। मौजूदा माहौल में एकदम 25- 30 खिलाड़ियों के साथ ट्रेनिंग शुरू कर पाना आसान नहीं , इसलिए सलाह थी की छोटे -छोटे ग्रुप बनाकर ट्रेनिंग शुरू की जाए और जरूरी हो तो प्राइवेट सैट-अप की भी मदद ली जाए। ये बड़ी कीमती और सही सलाह है। जल्दी शुरू होने वाले सीजन में क्रिकेट तभी हो पाएगी जब खिलाड़ी फिट हों।  कोविड  ने फिटनेस का जज्बा ही बिगाड़ दिया। इस वेबिनार के बाद ही  राज्य क्रिकेट एसोसिएशन सरगर्मी में आईं। 
सही फिटनेस कितनी जरूरी है ये  आईपीएल  से ही देख लीजिए – हर टीम ने सीधे फिटनेस ट्रेनिंग कैंप के साथ शुरुआत की। इस संदर्भ में पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन का ख़ास तौर पर जिक्र जरूरी है क्योंकि उन्होंने राहुल द्रविड़ की सलाह से पहले ही पुराने क्रिकेटर के अनुभव का फायदा उठाना शुरू कर दिया था। एसोसिएशन का युवराज सिंह से अनुरोध है कि वे पंजाब की टीम के साथ  मेंटॉर  के तौर पर जुड़ जाएं। अभी तक युवराज ने इस पर सहमति नहीं दी है पर टीम की मदद का सिलसिला शुरू कर दिया। एसोसिएशन के लिए वे अब तक प्राइवेट तौर पर दो कैंप लगा चुके हैं और यहाँ तक कि उन्होंने इसके लिए अपने चंडीगढ़ के घर की जिम के दरवाजे भी युवा क्रिकेटरों के लिए खोल दिए, उनके लिए घर के खाने का इंतज़ाम कराया। इसीलिए  आईपीएल में खेल रहे पंजाब के शुभमन  गिल, अभिषेक शर्मा ,प्रभसिमरन सिंह ,अनमोलप्रीत सिंह और हरप्रीत ब्रार जैसे  क्रिकेटर फ्रैंचाइज़ी के ट्रेनिंग कैंप से पहले ही फिट थे। 
अगर पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन ऐसा कर सकती है तो अन्य दूसरी एसोसिएशन क्यों नहीं ? पुराने क्रिकेटर अपने अनुभव को वापस देने में कभी पीछे नहीं। 
– चरनपाल सिंह सोबती

SPORTSNASHA
www.sportsnasha.com is a venture of SRC SPORTSNASHA ADVISORS PVT LTD. It is a website dedicated to all sports at all levels. The mission of website is to promote grass root sports.
http://www.sportsnasha.com